सर्दी जुकाम से बचने के घरेलू नुस्खे -Home Remedies For Cold In Hindi

दोस्तों बदलते मौसम के कारण होने वाली बिमारियों में से जुकाम एक बेहद ही आम माने जाने वाली बीमारी है।इसका सामना कभी ना कभी तो हर किसी व्यक्ति नें अपनी जिन्दगी में किया होगा।

जुकाम की सबसे बड़ी दिक्कत ये है के अगर आप्नको ये एक बार हो गया तो इसमें दवाई काम नहीं करती और ये आपको कम से कम 3-4 दिन तक तंग करता है और फिर इसके बाद खांसी कभी कभी मरीज को बुखार तक भी हो जाता है।

बहुत बार ऐसा होता है के आप अपने दोस्तों या फिर किसी मीटिंग में बैठे से भी डरते हैं के कहीं जुकाम की वजह से आपको शर्मिंदा नै होना पड़ जाये।

जुकाम को Common Cold भी कहा जाता है। जुखाम के मुख्य प्रकार से लक्षण पहले गले में खराश होना है, इसके बाद शरीर में दर्द होना, नाक बंद होना, नाक से पानी आना, सिर दर्द होना, गर्दन में दर्द होना, आँखों में जलन होना, कभी कभी जब जुकामज्यादा हो जाये तो बुखार भी होना इसके मुख्य लक्षण हैं।

cold remedies

जब कभी जुकाम ज्यादा हो जाये तो इसके उपचार भी बहुत जरूरी हो जाते हैं क्योंकि इसके कारण आपको निमोनिया (pneumonia), bronchitis, गले में जख्म जैसी गंभीर बीमारी हो सकती है।

चूँकि जुखाम में दवाई कम नै करने के कारण आपको घरेलू इलाज ही करना होगा और ये देसी नुस्खे आपके जुखाम को काफी हद तक ठीक भी कर देते हैं।

जुकाम होने के बाद आपको अपने रहन सहन का काफी अच्छे से ध्यान रखना होगा ऐसी चीजों का सेवन न करें जिससे आपका जुखाम और बिगड़ जाये और आपको बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ जाये। जहां तक हो सके ठंडी चीजों का सेवन नै करें और सर्दियों में गर्म कपडे पहने। आज हम आपको इस आर्टिकल के द्वारा सर्दी जुकाम से बचने के बहुत सारे घरेलू नुस्खों के बारे में बताएंगे। तो चलिए करते हैं शुरुवात:

सर्दी जुकाम से बचने के कुछ उपाय(Home Remedies For Cold):

गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारा(Gargle) करें:

दोस्तों जुकाम में सबसे पहले हमारा गला ही खराब होता है और खराब गले के लिए आपको सबसे पहले थोडा पानी लेकर उसे गुनगुना करके उसमें आधा चम्मच नमक अच्छी तरह से मिलाकर दिन में 3-4 बार तक करें तो इससे गले की खराश काफी हद तक ठीक हो जाती है।

gargle in cold

गरम पेय पदार्थों को अपने आहार में शामिल करें

  • सर्दियों शुरू होते ही ग्रीन टी के रोजाना सेवन से आपको ठंड से बचे रहने में मदद मिलेगी और आपको जुकाम भी कम होगा।
  • साधारण चाय की जगह आप रोज अदरक से बनी चाय पीने से हमारी इम्यूनिटी बढ़ती है और फलस्वरूप जुकाम भी कम होता है।
  • चाय बनाते समय उसमें 2 चुटकी सोंठ का पाउडर मिलाकर चाय पीने से आप सर्दी जुकाम से बचे रहते हैं।
  • तुलसी वाली चाय पूरी तरह से एंटीबॉयोटिक होती है, जो हमारे शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ा देती है।
  • सर्दी की समस्या को दूर करने के लिए आप हर रोज़ एक कप गर्मा गरम कॉफ़ी भी पी सकते हैं।
  • नींबू और शहद वाला गुनगुना पानी पीने से गले को आराम मिलता है और इसके साथ आपको विटामिन सी की ख़ुराक़ भी मिल जाती है।
  • गुनगुने पानी में नीम्बू और शहद मिलाकर पीने से भी आप शर्दी जुकाम से बचे रहते हैं

नीलगिरी के तेल करता है जुकाम से बचाव

थोडा सा नीलगिरी का तेल लेकर उसे नाक के निचले हिस्से में लगायें और एक बात का ध्यान रखें ये लगाने के लिए आप कपास की इस्तेमाल करें और कम मात्रा में ही लगायें क्योंकि ये काफी तेज होता है।

खुद को गर्म रखें और आराम करें

सर्दी का मौसम होतो इसमें अपने अप को गर्म रखना होगा इसके लिए आप स्वेटर या जैकेट पहन सकते हैं, इसके अलावा खुली हवा में न ही निकले तो बेहतर होगा।

आप जितना आराम कर सकते हैं उतना करें काम कम करें। क्योंकि आप जितना काम करेंगे उतना आपके शरीर में रोगाणुओं से लड़ने की क्षमता कम होती चली जाएगी और आपका जुकाम ठीक होने में समय लगेगा और आप चाहे कितनी भी दवाई खा लेना आपका जुकाम ठीक नहीं होगा।

बहुत ठण्ड लगने के समय आप कमरे में हीटर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

जुकाम में करें नमक वाले पानी का उपियोग

पानी को पहले अच्छे से उबालकर फिर ठंडा कर लें। अब आप एक गिलास पानी में 1/4 छोटा चम्मच नमक डालकर घोल लें। अब इसे एक ड्रापर से नाक में दो दो बूंद डालें।

नाक खुल जाएगी। मेडिकल में सलाइन नैसल ड्रॉप Saline nasal drop नाम से पहले से बना बनाया ड्रापर भी मिलता है।

जुकाम में सबसे पहले तो पानी को गरम करके ठंडा करें और इसके बाद इसमें एक चौथाई चम्मच नमक मिला लें।इसके बाद इस पानी को अपने नाक में एक ड्रपर की सहायता से 1-1 बूंद करके डाल लें।

ऐसा 2-3 बार करने से आपकी नाक खुल जाएगी।मेडिकल स्टोर पे आपको सलाइन नैसल ड्रॉप Saline nasal drop नमक पहले से ही बना हुआ ड्रापर भी मिल जाता है।

जुकाम की स्थिति में नाक साफ़ रखें

जुकाम में हमारे नाक के अन्दर बन रहे बलगम को अन्दर की तरफ नै खीचें और नै ही नाक साफ़ करने के लिए ज्यादा ताकत लगानी चाहिए।

अगर आप ऐसा करेंगे तो रोगाणु कान की तरफ चले जाएँगे जो आपकी हालत और भी खराब कर सकते हैं।नाक सही ढंग से साफ़ करने का तरीका एक नाक के छिद्र को बंद करके दुसरे नाक से बलगम बाहर निकालना ऐसा ही दुसरे नाक छिद्र के साथ करें।

cold remedies at home in hindi

जितना हो सके तरल पदार्थ पिएँ

सर्दी के समय हमें ठंड के कारण प्यास बहुत कम लगती है, और ऐसे अगर आप पानी नहीं पी रहे तो हमारी नाक बंद हो जाएगी। और जुकाम के समय हमारे शरीर में लगातार पानी कम होता रहता है, इसी कारण सर्दी के समय भी कम से कम 8-10 गिलास पानी हर रोज पीना चाहिए।

पानी पीने के साथ साथ अगर आप जूस, काढ़ा, चाय, कॉफ़ी या सूप भी पी रहे है तो इससे बढ़िया बात क्या हो सकती है। तरल का सेवन हमारे शरीर में पानी की मात्रा को सही रखेगा और आपकी सर्दी की समस्या को भी कम करे देगा।

सर्दी होने के बाद भाप जरुर लें

अगर सर्दी के कारण आपके नाक बंद हो गये हो तो आपको भाप जरुर लेनी चाहिए ताकि बंद नाक खुल सके। भाप लेने का सही तरीका है एक बर्तन में पानी उबाल लें और उसे किसी जगह पर रखकर उससे उठती हुई भाप को लें।

ऐसा रुक रुक कर करते रहे। आजकल बाजार में भाप लेने की मशीन भी हाई हुई हैं चाहे तो आप उनकी मदद से भी भाप ले सकते हैं।

steam in cold

आपकी रसोई में मिलने वाली कुछ चीजों से भी कर सकते हैं जुकाम का इलाज :

लहसुन(Garlic):

दरअसल लहसुन में कुछ antibacterial और antiviral तत्व पाए जाते हैं जो जुकाम को ठीक करने में मदद करते हैं। लहसुन immune तंत्र के लिए बहुत अच्छा होता है, श्वसन मार्ग को खोलता है और शरीर से गंदे पदार्थों को बाहर निकाल देता है।

  • लहसुन को छीलकर उसमें एक लौंग डालें और दोनों को पीस लें। अब इसमें 2 चम्मच निम्बू का रस मिला लें, इसमें एक चम्मच शहद और थोड़ी सी लाल मिर्च मिला लें। इस मिश्रण को दिन में  2 बार लें और तब तक हर रोज लें जब तक जुकाम ठीक नै हो जाए।
  • लहसुन की कुछ कलियाँ लेकर उसे पानी में डालकर उबल लें और इसमें आधा चम्मच शहद मिला लें। इस घोल को दिन में 2 से 3 बार तक पियें।
  • लहसुन को आप अपने खाने में इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर आप इसे भून कर भी खाया जा सकता है। इसके अलावा बाजार में लहसुन का तेल मिलता है जिसे आप अपने खाने में डालकर भी खा सकते हैं।

home remedies for cold

अदरक (Ginger)

दरअसल दोस्तों अदरक में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो जुकाम को रोकने में मदद करते हैं, जैसे के Antiviral, खासी को रोकने वाले तत्व भी, और इसके साथ Anti-Inflammatory भी।

  • अगर आपको चाय पीने में कोई दिक्कत नहीं है तो आप दिन में दो से तीन बार अदरक वाली कडक चाय पियें। अगर आप अदरक की चाय में थोडा सा निम्बू भी डाल लेते हैं तो ये चाय को और भी ज्यादा जुकाम को ठीक करने के लायक बना देगा।
  • नमक के साथ लौंग और अदरक का और लौंग पीसकर उसका पेस्ट बना लें और इस पेस्ट को दिन में 2 बार तो अवश्य लें।
  • अगर जुकाम के समय आपके नाक से पानी आ रहा है तो अदरक का पाउडर के साथ घी और गुड को बराबर मात्रा में मिलाकर हर रोज सुबह बिना कुछ खाए पीए खाली पेट इसका सेवन कर लें।

मसाला चाय से करें जुकाम ठीक

मसाला चाय जुकाम को को ठीक करने के लिए काफी मददगार शाबित होती है और ये देखा जाये तो एक तरह से आयुर्वेदिक तरीका भी है जुकाम को ठीक करने का।

  • इसके लिए आपको सबसे पहले एक चौथाई कप धनिया, आधा चम्मच जीरा, आधा चम्मच सौंफ, एक चौथाई चम्मच मेथी के बीज लेकर इन सबको एक साथ मिलाकर इनको पीस लें और पाउडर बना लें।
  • इसके बाद एक कप पानी लें और इसे उबल लें।
  • इस पानी में ऊपर बनाया गया मसाला एक चम्मच डाल लें और थोड़ी सी मिश्री भी डाल दें।
  • इसके बाद इसे कम से कम 5 मिनट और और उबालें और थोडा ससा दूध डाल लें। इस चाय को हर रोज पिए। ये आपका जुकाम एक दम जड़ से खत्म कर देता है।

masala tea for cold

दालचीनी से करें जुकाम का इलाज 

दरअसल दालचीनी गले की खराश को कम करती हैं और खराश के साथ साथ जुकाम से भी लडती है।

  • 1 गिलास उबले हुए पानी में एक चम्मच दालचीनी और लौंग डाल लें और इसके बाद इसे फिरसे 10 से 15 मिनट तक उबाल लें। इसके बाद इसे छानकर पी लें। अगर आप चाहो तो इसमें थोडा सा शहद भी मिलाकर पी सकते हैं।
  •  दालचीनी की छाल के तेल में थोड़ा सा शहद मिलाकर लेने भी आपका जुकाम ठीक हो सकता है।

प्याज (Red Onion)

प्याज के सिरप पीने से भी हलके जुकाम में आपको आराम मिलता है। ये सिरप बनाने की विधि नीचे हम आपको बता रहे हैं।

  • इसके लिए सबसे पहले आप 2 प्याज लें और इसे काट लें इसके बाद इन्हें किसी बर्तन में रखकर इसमें ऊपर से थोडा सा शहद डाल दें ये हर एक प्याज की कटी हुई स्लाइस के साथ करना होगा।
  • अब इस कटोरी को 15 घंटों के लिए ढककर छोड़ दें। 15 घंटों के बाद आप देखेंगे तो आपको गाढ़ा सिरप तैयार मिलेगा।
  • तैयार हुए इस मिश्रण को दिन में 2-3 तीन बार सेवन करें। इससे आपको जुकाम में आराम मिलेगा।

शहद (Honey)

शहद से हमारे गले की खरास खत्म होती है और ये जुकाम के समय को भी कम करता है। शहद में मौजूद पोषक तत्वों के कारण बैक्टीरिया और वायरस मर जाते हैं।

आप हर रोज शाम को सोने से पहले शहद में एक चम्मच निम्बू मिलाकर इसका सेवन करें। आप चाहो तो इसका सीधे सीधे भी सेवन कर सकते हैं।

तो दोस्तों ये थे जुकाम से बचने के घरेलू उपाय( Home remedies for cold in hindi) हो सकता है ये किसी के काम आ जाये तो दोस्तों कीजिए इसे शेयर अपने दोस्तों के साथ।

Amit Shrivastava
 

हैल्लो, मेरा नाम अमित अम्बरीष श्रीवास्तव है। मैं एक लेखक और एक ब्लॉगर हॅू और मुझे रचनात्मक लेखक बहुत पसंद है। मैंने 2013 में अपनी ब्लॉगिंग करियर की शुरूआत की थी, और कभी पीछे नहीं देखा। य​ह ब्लाग मैने स्वास्थ्य और तंदुस्र्स्ती से सम्बन्धित अपने विचार साझा करने के लिये बनाया है और मुझे आशा है कि आपको इसका कॉंटेंट पसंद आयेगा।

Click Here to Leave a Comment Below 0 comments

Leave a Reply:

CommentLuv badge